Facebook

Subscribe for New Post Notifications

Arquivo do blog

Categories

Ad Home

BANNER 728X90

Labels

Random Posts

Recent Posts

Recent in Sports

Header Ads

test

Popular Posts

Pages

Business

Fashion

Business

[3,Design,post-tag]

FEATURED POSTS

Theme images by Storman. Powered by Blogger.

Featured post

पंचतंत्र कहानियाँ Hindi stories for kids panchatantra

हम लाये है आप के लिए panchtantra ki kahaniya या फिर कहे bachon ki kahaniyan in hindi इस आर्टिकल में आप को moral stories for childrens in hi...

Featured

Monday, 18 June 2018

thyroid को मत करिए नजर अंदाज thyroid in hindi

अगर आप thyroid से है परेशान तो अब आप टेंशन ना लीजिये क्यूंकि thyroid ki bimari ka ilaj और thyroid treatment in ayurveda in hindi या thyroid symptoms in hindi या इसके आलावा thyroid diet chart in hindi तो इस post में आपको thyroid ke gharelu nuskhe और thyroid ka ayurvedic upchar in hindi में मिल जायंगे जिसकी मादा से आपको थाइरोइड की problem दूर जायगी.अगर आप को शक है की आप के thyroid है और आप खोज रहे है thyroid ke lakshan kya hai और thyroid ke lakshan in hindi या फिर thyroid kaise jane तो आप सही जगह पे आये है.यहाँ पे आप को सब कुछ मिलेगा.

अगर आपके वजन में ,भूक -प्यास में या शारीरिक ताकत में कभी भी उतार चड़ाव आता है तो डॉ. आपको थाइरोइड test कराने को बोलते है. thyroid एक ग्रंथि है जिसको हम बोलते है gland. इस प्रक्रिया को  बोलते है endocrine system  उसमे कई ग्रंथिय होती है जिसका काम होता है hormones का production करना.
थाइरोइड एक ऐसी ग्रंथि है जो हमारे गले में स्थित होती है और thyroxin नाम का हार्मोन बनाती है.
thyroxin metabolism में work करता है.
 metabolism क्या है ?  metabolism का मतलब होता है की जो भी हम खाते है ऑक्सीजन लेते है पानी पीते है तो शारीरिक धातुओं में conversion की प्रक्रिया है उसको metabolism कहते है. वहा कुछ चीज़े उसमे टूट भी रही होती है waste products भी बनते है. तो ये  एक part of metabolism है. इनको metabolic waste बोलते है.
तो इस process में thyroxin निकलता है हमारे थाइरोइड gland से उसका काफी बाड़ा role होता है. जब-जब हमारे थाइरोइड में प्रोब्ल्र्म आयगी तो metabolism में प्रोब्लम आयगी. इसलिए कभी वजन भी बड़ जाता है घट जाता है थकावट हो जाती है. क्यूंकि metabolism से जुडी हुई चीज़े है. यदि रखना है अपने system को fair तो कर लीजिये thyroid की care.
थायराइड बीमारी एक आम समस्या है जो थायराइड ग्रंथि के ऊपर या नीचे के काम के कारण लक्षण पैदा कर सकती है। थायरॉइड ग्रंथि थायरॉइड हार्मोन का उत्पादन करने के लिए एक आवश्यक अंग है, जो शरीर चयापचय को बनाए रखता है। थायराइड ग्रंथि एडम के सेब के नीचे गर्दन के सामने स्थित है। थायरॉइड बीमारी कभी-कभी गर्दन में थायराइड ग्रंथि के विस्तार को भी जन्म दे सकती है, जो अंगों के आकार में वृद्धि से संबंधित लक्षणों का कारण बन सकती है (जैसे गर्दन के सामने निगलने और असुविधा में कठिनाई)।

कारण :-

  • थाइरोइड में damage.
  • thyroid में चोट लग जाना.
  • गांठे (nodules) बन जाना.
  • दूसरी बीमारियों के कारण भी जैसे diabetes, arthritis आदि .
  • आयोडीन की कमी .
  • टेंशन लेना.

लक्षण :-

दो प्रकार के थाइरोइड होते है.

  • 1 hyperthyroid
  • 2 hypothyroid


hyperthyroid यानिकी जब उसकी  activity बहुत तेज हो जाती है तो उसमे जो लक्षण होते है वो मुख्य रूप से देखने को मिलेंगे.

  • heartbeat fast हो जाती है.
  • palpitation बड़ जाती है.
  • बेचैनी बहुत बड़ जाती है.
  • शरीर में कभी बहुत जादा गर्मी लगती है.
  • सांस लेने की प्रक्रिया तेज हो जाती है.
  • गर्मी बहुत लगती है.
  • तो एक तरह से शरीर में चीज़े बदने लग जाती है.


2 hypothyroidism


  • hypothyroidism चीज़े slow हो जाती है.
  • weight बड़ जाता है.
  • सुस्ती बनी रहती है.
  • body में swelling हो जाती है.
  • भूक कम लगती है.
  • कमजोरी रहती है.
  • खून की कमी हो जाती है.


और ये सब जो control होता है वो हमारे जो mind में  main center होता है जो pituitary gland है वहाँ से TSH(thyroid-stimulating hormone)निकलता है जो की thyroxin की quantity को control करता है. depending on क्या condition हुई है hyper है या hypo है वह से हमे पता चलता है.


tips:-


  • mind को relax रखना है.
  • metabolism से जुड़ा एक रोग है जिससे पुरे शरीर में असर आता है.
  • उज्जेई प्राणायाम करे.
  • देशी घी या तिल के तेल से मालिश करें.
  • इसका connection हमारे hormonal system से है endocrine system है.
  • गरम पानी से सिकाई करें.
  • मानसिक तनाव, stress, emotional problem इससे भी इसका connection बनता है.

लेकिन ये इलाज नहीं उपचार है इन रोग का supportive चीज़े है,
इलाज जो आपके डॉ. ने आपको बताया होगा दवा दी होगी जो आपको tablet लेनी होती है daily.

कैसे जाने आपको thyroid है :-

क्या  आप  मोटे हो रहे हो या पतले हो रहे हो दोनों का अलग-अलग कारण है.
अगर आप पतले हो रहे हो तो आपको hyperthyroidism है और अगर आप मोटे हो रहे हो तो आपको hypothyroidism है.
एक में palpation जादा होता है sweating जादा होती है वो होता है hyper यानिकी hyper active जादा हो गया है. तो आपको blood pressure भी बड़ सकता है लेकिन heart का rate जादा बड़ जाता है  sweating जादा हो जाती है. आपकी आँखे बहार की ओर निकलने लगती है Exophthalmos फूलने लगते है तो ये कुछ चीज़े होती है hyper में.


tips:-


  • walk start कर दिजिए  सुबह-शाम.
  • रात की नींद पूरी करिए.
अगर hypo में menses irregular हो गाय है
 भूक नहीं लग रही हो hyper में भूक जादा लगती है इसमें कम लगती है.
hypo मतलब छोटा(कम) जिसमे कम चीज़े या कम लक्षण हो जाते है यानि metabolism slow हो जाता है hypothyroidism होता है और अगर आपको लगता है unnecessary weight gain कर रही है बाल झड़ने लगे है period इधर उधर हो गाये है  तो आप thyroid function test करालिजिये


 घरेलु नुस्खे :-


धनिया का पानी :- इसे बनाने के लिए आप धनिय का powder भी ले सकते है या सबूत धनिया भी ले सकते है.
4-5 चम्मच धनिया 1 लीटर पानी के अन्दर दालकर अच्छी तरह boil कर लें है और इसे तब तक उबालना है जब तक इसका पानी आधा न रह जाय इस तरह से इस पानी का कलर भी change हो जायगा और ये drink ready हो जायगा.

  • इस drink को आपने सुबह-शाम लेना है खाली पेट.
  • इस drink को पीने से आपकी thyroid की problem तेजी से सुधार आता है.



  • दालचीनी powder
  • अजवाइन powder
  • मेथी powder

इन तीनो powder को अपने mix करना है और इसका सेवन आपको रोज खाने से पहले एक चम्मच गरम पानी के साथ mix करके लेना है.
यह चूर्ण thyroid की समस्या के लिए बहुत कारगर इलाज है.



  • नारियल  तेल

नारियल का तेल thyroid की problem के लिए बहुत ही लाभकारी होता है अगर आप चाहे तो खाने वाले नारिया को रोजाना एक टाइम एक glass गरम दूध में 1 चम्मच मिलकर पी सकते है.
                                     



  • अपने भोजन में भी इसका तेल ताल कर आप सेवन कर सकते है.
  • जिन लोगो को thyroid की problem है उनलोगों को नारियल के तेल का सेवन रोजाना करना ही चाहिए.


apple vinegar:-
सेब का सिरका  यह आपको किराने (grocery) की शॉप में easily मिल जायगा.
1 glass गुनगुने पानी में  1 चम्मच apple vinegar 1 चम्मच शहद मिलाकर पीने से thyroid की समस्या में सुधर आता है और साथ ही यह हमारे वजन को कम करने के लिए भी कारगर है.


आयुर्वेदिक नुस्खा :-


कांचनार गुग्गलु यह एक आयुर्वेदिक जड़ीबूटी है यह आपको किस्सी भी आयुर्वेदिक स्टोर से मिल जायगी.
आप इसकी tablet भी ले सकते है और रोज शाम को या दिन में खाना खाने के बाद सेवन करने से thyroid की प्रोब्लम दूर होगी.
अश्वगंधा
अश्वगंधा hypothyroidism में बहुत ही लाभकारी है जिनकी हमारे शरीर में हारमोंस की वृधि करता है अश्वगंधा का चूर्ण या इसके साबुज किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर में आपको मिल जायगा.
हरड़
एक चम्मच गुनगुने पानी के साथ सुबह या शाम कर सकते है.


योग:-

thyroid की समस्या thyroid की ग्रंथि ठीक तरीके से कार्य न करने के कारण होती है इसलिए उसे वापास ठीक तरीके से काम करवाने के लिए सबसे जादा असरदार चीज़ है योग
उज्जई प्राणायाम :-

इसमें आपको अपने गले को अन्दर दबाते हुए शरीर शरीर के अंदर गहरी सांस खींचनी होती है और ऐसा करते समय आपके गले से एक आवाज बाहार निकलती है इस तरीके से आप जादा से जादा सांस अपने अन्दर भर कर उतनी देर तक रोके जितनी देर तक आप रोक सकते है और उसके बाद हमे हमारे नाक के right वाले छेद को बंद करके  left वाले छेद से सांस छोड़ना है. जिन लोगो को thyroid की problem है वो एक महीने तक इस प्राणायाम को करेते है तो संभावना होती है की एक महीने के अन्दर ही उनकी thyroid की problem ख़त्म हो जाय यह बहुत ही असरदार और आसान इलाज है इसलिए इसे जरुर करें.

निम्नलिखित 9 खाद्य पदार्थ इन आवश्यक तत्वों के गुणवत्ता आहार स्रोत प्रदान करते हैं। उनमें गुणवत्ता protine, आवश्यक vitamin की उच्च मात्रा (जैसे हार्मोन उत्पादन में आवश्यक विटामिन B), एंटीऑक्सीडेंट और अधिक सहित पूर्ण पौष्टिक सामग्री भी शामिल है!


  •  डल्स समुद्री शैवाल

सागर सब्जियां आयोडीन का एक बड़ा स्रोत हैं और डल्स समुद्री शैवाल को आयोडीन की सबसे संगत और उच्चतम सांद्रता (concentration) प्रदान करने के लिए पाया गया है। यह बैंगनी-भूरा समुद्री सब्जी पोटेशियम से भरा है और प्रोटीन का एक उत्कृष्ट स्रोत है। (डल्स समुद्री शैवाल, आर्मेम, कोम्बू, नोरि, समुद्री हथेली और वाकमेम के अलावा गुणवत्ता आयोडीन और पोषक स्रोत भी हैं।)

  •  मछली

मछली आहार आयोडीन का एक बड़ा स्रोत है, साथ ही ओमेगा -3 फैटी एसिड के अद्भुत लाभ जो स्वस्थ दिल में योगदान देने के लिए पाए जाते हैं। कॉड और हैडॉक जैसे गहरे समुद्री मछली में आहार आयोडीन की उच्चतम घनत्व होती है।

  • नारियल तेल

नारियल एक चारों ओर एक उत्कृष्ट भोजन हैं, और नारियल से तेल लंबे समय तक एक चिकित्सा भोजन के रूप में इस्तेमाल किया गया है। नारियल के तेल में उचित चयापचय समारोह के लिए आवश्यक आवश्यक फैटी एसिड होते हैं। ये फैटी एसिड शरीर द्वारा आसानी से समेकित होते हैं और थायराइड समारोह, थायराइड हार्मोन उत्पादन और चयापचय को विनियमित करने में योगदान देते हैं।

  •  बीन्स


बीन्स जस्ता और लौह का एक अच्छा स्रोत हैं। वे गुणवत्ता प्रोटीन भी प्रदान करते हैं और बी विटामिन और विटामिन सी का एक उत्कृष्ट स्रोत हैं। अधिक महत्वपूर्ण, लीमा या पिंटो बीन्स जैसे सेम सेलेनियम का एक बड़ा स्रोत हैं। उदाहरण के लिए, 1 कप पके हुए सेम में 13 मिलीग्राम सेलेनियम या आपके दैनिक मूल्य का 1 9% होता है।

  •  डेयरी

इस श्रेणी में, अंडे आयोडीन के लिए सबसे अच्छा स्रोत होगा क्योंकि उनमें अनुशंसित दैनिक मूल्य का लगभग 16% होता है। अमेरिकी स्कूली बच्चों के एक हालिया अध्ययन में पाया गया कि दूध, योगर और पनीर सहित सामान्य डेयरी सेवन में स्वस्थ आयोडीन के स्तर में योगदान दिया गया है। [6] हालांकि डेयरी मेरे व्यक्तिगत आहार का हिस्सा नहीं है, फिर भी कई अन्य लोगों में यह शामिल है; मैं आपको कार्बनिक, शाकाहारी-खिलाया, मुक्त रेंज जानवरों से बने उत्पादों का चयन करने के लिए प्रोत्साहित करता हूं।

  •  लिवर और गुर्दा मांस

यद्यपि वेगन्स या शाकाहारियों के लिए उपयुक्त नहीं है, ये अंग मीट, विशेष रूप से गोमांस यकृत, लौह, जस्ता और सेलेनियम के साथ ही उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन प्रदान करते हैं। वे अधिकांश फल और सब्जियों की तुलना में कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन ए, सी और डी, और बी विटामिन का एक अधिक पूर्ण, पोषक तत्व-घना स्रोत भी प्रदान करते हैं। दोबारा, यदि आप इस मार्ग पर जाते हैं, तो जैविक, शाकाहारी खिलाए पशुओं से उत्पादों का चयन करें।

  • बादाम

जबकि अधिकांश पागल प्रोटीन, खनिजों, विटामिन और फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत हैं, बादाम थायराइड द्वारा आवश्यक पोषक तत्वों का एक शक्तिशाली स्रोत प्रदान करते हैं। बादाम आवश्यक बी विटामिन और उच्च प्रोटीन सामग्री के साथ लौह, सेलेनियम और जस्ता के गुणवत्ता मूल्यों को गठबंधन करते हैं।

  •  तुर्की

एक दुबला प्रोटीन स्रोत के लिए, तुर्की सेलेनियम का एक उत्कृष्ट स्रोत है। इसमें लौह और आवश्यक एमिनो एसिड भी होते हैं।

  • डार्क ग्रीन पत्तेदार सब्जियां


एक अंधेरे पत्तेदार veggies काम करेगा जब एक का चयन क्यों करें? पालक, काले, कोलार्ड ग्रीन्स, स्विस चार्ड, सरसों या सलिप हिरण सभी लोहे का एक बड़ा स्रोत हैं, बी विटामिन (हार्मोन सृजन के लिए आवश्यक), विटामिन ए, सी और डी, मैग्नीशियम और उनके अविश्वसनीय एंटीऑक्सिडेंट्स। ये सुपरफूड न केवल थायराइड की पोषक तत्वों की आपूर्ति करते हैं, बल्कि वे समग्र स्वास्थ्य की रक्षा में भी मदद करते हैं।

दोस्तों हमारा लक्ष्य सिर्फ और सिर्फ रोग मुक्त भारत बनाना है हम चाहते है की अधिक से अधिक लोगो तक हेल्थ की जानकारी पहुचे 
इसके लिए आप हमारा सहयोग करे,खुद पढ़े और दुसरो को पढाये.आप हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते है इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज
या फिर अगर आप फ़ोन से ये जानकारी पढ़ रहे है तो सब से निचे फेसबुक लाइक करने का बटन है अगर आप कंप्यूटर से पढ़ रहे है तो साइड मे आप को फेसबुक लाइक 
का बटन दिख जायेगा.

0 on: "thyroid को मत करिए नजर अंदाज thyroid in hindi"